Short of words…

When you are short of words but not really as life brings in poetry and you just copy paste it….

🌞🌞🌞🌞🌞🌞🌞🌞

एक सुकून कि तालाश मे,
ना जाने कितनी बेचैनियाँ पाल लीं…

और लोग कहते हैं,
हम बड़े हो गये और ज़िन्दगी संभाल ली…👥👥👥

: बचपन में सबसे अधिक पूछा गया एक सवाल ।
-बड़े होकर क्या बनना है….?
अब जाकर जवाब मिला ।
-फिर से बच्चा बनना है ….!!